< Browse > Home /

| Mobile | RSS

  

पहाड़ी गीतः हिमला हाउ उनो कोता

इस गीत की सबसे बड़ी मधुरता है इसकी लयबद्दता और संगीत, भाषा समझ ना आये तो भी गीत का आनंद उठाया जा सकता है। लेकिन सबसे पहले गढ़वाल के उस क्षेत्र के बारे में थोड़ा बताता दूँ जहाँ का ये गीत है। गढ़वाल के इस क्षेत्र का नाम है जौनसार रवांई, ये पड़ता है उत्तरकाशी [...]

Interview: गढ़वाली सिनेमा के जनक पराशर गौढ़ के साथ बातचीत – 2

गड़वाली सिनेमा के २५ साल पूरे होने पर हमने जा पकड़ा, पहाड़ी महिला के संघर्ष की कहानी कहती फिल्म “गौरा” और पहली गढ़वाली फिल्म “जग्वाल” के निर्माता पराशर गौढ़ को, और उनके साथ करी एक लंबी बातचीत। आज से उसी बातचीत का सिलसिला यहाँ शुरू कर रहे हैं। पिछली पोस्ट के साथ हमने पराशर गौढ़ [...]

[ More ] July 1st, 2008 | 4 Comments | Posted in व्यक्तिव, सिनेमा |

लोकगीतः ठंडो रे ठंडो और ठंडो पानी गीत

वैसे तो ये गीतों की बारी नही थी, लेकिन थोड़ा व्यस्त रहने के कारण जो लेख शुरू किया था वो पूरा नही कर पा रहा हूँ, इसलिये तब तक आप ये दो लोकगीत सुनिये। पहला है “पी जाओ पी जाओ मेर पहाड़ को” गोपाल बाबू गोस्वामीजी की आवाज में (कुमाँउनी बोली में) और दूसरा है [...]

म्यार पहाड़

अगर मेरा गांव मेरा देश हो सकता है तो म्यार पहाड़ क्यों नही? म्यार पहाड़ यानि मेरा पहाड़ लेकिन ऐसा कहने से ये सिर्फ मेरा होकर नही रह जाता ये तो सब का है वैसे ही जैसे मेरा भारत हर भारतवासी का भारत। खैर पहाड़ को आज दो अलग अलग दृष्टि से देखने की कोशिश [...]

लोकगीतः सुरम्याला आंख तेरा घुंघराला बाल

इस बार आपको सुना रहे हैं गढ‌वाली बोली में गाया ये गीत। खुबसूरत बोलों से सुज्जित ये गीत लडकी की तारीफ में गाया हुआ गीत है, ये गीत आडियो एलबम पैलि पैलि प्यार से लिया गया है। शुरू की लाईनें कुछ इस तरह से है – सुरम्याला आंख तेरा घुंघराला बाल गोरी मुखडी जैसी हिरनी [...]

लोकगीतः बबली तेरो मोबाईल

इस बार आपको सुना रहे हैं गढ‌वाली बोली में गाया ये गीत। लोकल और आधुनिक संगीत से सुज्जित ये गीत एक छेडछाड का गीत है जिसमें लडका एक बबली नामकी लडकी को फोन करता है। लडकी के फोन पे हँसने पर लडका ये गीत गाने लगता है, जिसके शुरूआती बोल का भावार्थ कुछ इस तरह [...]

लोकगीत: बेडु पाको बारो मासा

‘बेडु पाको बारो मासा’ ये आपने अवश्य ही सुना होगा आमिर खान द्धारा अभिनीत, प्रसून जोशी द्धारा रचित कोका कोला के विज्ञापन में, आज कुमाँऊ का ये लोकगीत आपके पेशे खिदमत है। अगर आपने राजश्री की फिल्म विवाह देखी होगी तो इस गीत के पहली लाईन की ट्यून पर जरूर गौर किया होगा। ये गीत [...]