< Browse > Home / Archive by category 'उप्लब्धि'

| Mobile | RSS

  

लिटिल चैंपः वसुंधरा रतूड़ी – २

पिछली पोस्ट में मैने इस लिटिल गर्ल की कुछ गाते हुए झलकियाँ दिखायी थी, अब अगर आप इस आवाज के लिये वोट देने की सोच रहे हैं तो ये रहा तरीका कि आप कैसे इसके लिये वोट कर सकते हैं, आप इंटरनेट से भी वोट कर सकते हैं। जानने के लिये यहाँ क्लिक करिये

चक दे मैन मीर रंजन नेगी के साथ रजनीश की बातचीत

[अब तक तो शायद काफी लोग जान गये होंगे कि 'चक दे इंडिया' में शाहरूख वाला रोल पूर्व हाकी कोच मीर रंजन नेगी को लेकर लिखा गया था। उत्तराखंड समुदाय के सक्रीय मेम्बर रजनीश ने उनके साथ बातचीत करी। ये बातचीत यहाँ आप लोगों के लिये पेश है। इससे पहले ये क्रियेटिव उत्तराखंड की साईट [...]

[ More ] October 24th, 2007 | 8 Comments | Posted in उप्लब्धि, व्यक्तिव |

विडियोः उत्तराखंड गाथा और नरेन्द्र सिंह नेगी लाइव – भाग 2

आज पेश है इस कड़ी का दूसरा भाग, अगर आपने ओम पर्वत और कैलाश देखना है तो इस विडियो को जरूर देखिये। एक पर्वत के ऊपर बर्फ से बनता है ओम, इसी से इसका नाम भी पड़ता है ओम पर्वत। उत्तराखंड गाथा अभी अगले भाग में भी जारी रहेगी। भाग १ देखने के लिये यहाँ [...]

विडियोः उत्तराखंड गाथा और नरेन्द्र सिंह नेगी लाइव – भाग १

अभी कुछ दिनों पहले उत्तरांचल एसोशियन आफ नार्थ अमेरिका का ९वाँ अधिवेशन संपन्न हुआ। “उत्तराखंड गाथा और नरेन्द्र सिंह नेगी लाइव” शीर्षक के अंतर्गत अगले कुछ पोस्टों (दिनों) तक इसी अधिवेशन के प्रोग्राम की झलकियाँ पेश की जायेंगी। इस अधिवेशन में पहले आप देखेंगे, डा शेखर पाठक के व्याख्यान – “उत्तराखंड गाथा” और “अपने लोगों [...]

पद्मश्री डा. शेखर पाठक, नरेन्द्र सिंह नेगी और गिरदा से विशेष बातचीत

उत्तरांचल एसोशियन आफ नार्थ अमेरिका की स्थापना के दस वर्ष होने पर विशेष रूप से आयोजित इस सालाना अधिवेशन में, यहाँ अमेरिका में भाग लेने आये पद्मश्री से सम्मानित डा शेखर पाठक, प्रसिद्ध लोक गायक नरेन्द्र सिंह नेगी और गिरीश तिवारी (गिरदा) से न्यू जर्सी के लोकल और हिन्दी रेडियो स्टेशन पर जानेमाने रेडियो जॉकी [...]

शिवानी गौरा पंत

हिन्दी साहित्य में शिवानी एक जाना पहचाना नाम है। इन्होनें काफी सारे उपन्यास, कहानियाँ, आलेख और निबन्ध लिखकर हिन्दी साहित्य को अपना योगदान दिया है। इनके लेखन में भावों का सुन्दर चित्रण, भाषा की सादगी तो होती ही थी साथ ही साथ पहाड‌‌‌, वहाँ रहने वाले भोले भाले लोग और वहाँ की संस्कृति का जीता [...]