< Browse > Home / उप्लब्धि, गीत और संगीत, त्‍यौहार, मनोरंजन, विडियो / Blog article: विडियोः उत्तराखंड गाथा और नरेन्द्र सिंह नेगी लाइव – भाग १

| Mobile | RSS

  

विडियोः उत्तराखंड गाथा और नरेन्द्र सिंह नेगी लाइव – भाग १

अभी कुछ दिनों पहले उत्तरांचल एसोशियन आफ नार्थ अमेरिका का ९वाँ अधिवेशन संपन्न हुआ। “उत्तराखंड गाथा और नरेन्द्र सिंह नेगी लाइव” शीर्षक के अंतर्गत अगले कुछ पोस्टों (दिनों) तक इसी अधिवेशन के प्रोग्राम की झलकियाँ पेश की जायेंगी।

इस अधिवेशन में पहले आप देखेंगे, डा शेखर पाठक के व्याख्यान – “उत्तराखंड गाथा” और “अपने लोगों को तुम जानो, अपने गांवों को पहचानो” की कुछ झलकियाँ, उसके बाद लोकल बाल कलाकारों के सांस्कृतिक प्रोग्राम की झलकियाँ और अंत में नरेन्द्र सिंह नेगी और गिरीश तिवारी “गिरदा” की जुगलबंदी।

आज पेश है पहला भाग।

Leave a Reply 11,326 views |
Follow Discussion

12 Responses to “विडियोः उत्तराखंड गाथा और नरेन्द्र सिंह नेगी लाइव – भाग १”

  1. harish kumar Says:

    i like all song all pahari seen and i love uttranchal great our uttranchal .

  2. manmohan singh rawat Says:

    please continue tis presentation

  3. Trilok Chander Bhatt Says:

    yksd laxhr ds ekè;e ls mÙkjk[k.M dh lkaLd`frd fojklr dk laj{k.k djus ds fy, vki cèkkbZ vkSj iz'kalk ds ik= gSaA f=yksd pUnz HkV~V] C;wjks phQ jk”Vªh; U;wt lfoZl] gfj}kj
    tcbhattindia@yahoo.com

  4. उत्तराखंडी राम लीला Says:

    मैं तो अपने आप को सबसे बड़ा उत्तराखंडी मानता हू, मेरे शरीर के खून की हर बूँद मे उत्तराखंड बसा हुआ है, मे अपने उत्तराखंड की सभ्यता, संस्कृति, बोली,संगीत और रीति रिवाजू से बहुत ही दिल से जुडा हुआ हू , शायद हर एक सच्चा उत्तराखंडी ऐसे ही कहेगा. मे उत्तराखंड की सभ्यता, संस्कृति, भाषा -बोली और संगीत को विश्वा के मानचित्र पर एक सु सज्जित स्थान दिलवाना चाहता हू और ये सब हम लोगों के सयुंक्त प्रयास से सम्भव हो सकेगा. इसलिए दोस्तो अपने उत्तराखंड की संस्कृति, सभ्यता, भाषा बोली को अपनाओ और इसके प्रचार प्रसार मे अपना मह्तावापूर्ण योगदान प्रदान करें.

    आपने अभी तक राम लीला बहुत देखि होगी, लेकिन क्या आपने अपने उत्तराखंड की अपनी बोली मे कभी राम लीला का आनंद लिया, जहा तक मेरा अंदाजा है किसी ने भी अपनी बोली मे इस पोरानिक और पवित्र नाटक का आनंद नही लिया होगा. मैंने इसके बारे मे थोड़ा सा आप लोगों को जानकारी देने की कोशिश की. विस्तार मे मैंने इसके बारे मे अपने ब्लॉग मे लिखा है और मे आप लोगों से निवेदन करता हू की कृपया एक बार इसको जरूर पढ़ें और अपने सुझाव से मुझे अवगत करवाएं.

    रीडर कैफे को मैं बधाई देना चाहता हू जो एक बहुत ही अच्छा कार्य कर रही है.

    http://kandpalsubhash.blogspot.com/2007/10/blog-post_12.html

  5. vinod jethuri Says:

    i am not able to see these video. how can i see plz advice me.
    vinod
    dubai

  6. BEDPRAKASH TIMILSAINA NEPAL Says:

    MAI CHAR SAL SE KUMAU KAE BAREME JANNA CHAHATA THA . AAPKA YA SITE PDHKAR BAUTA AANADA AYA .
    BEDPRAKASH TIMILSAINA FROM NEPA

  7. harish Paroriya Says:

    jai ho uttrakhand ki dharti ke swar ko mera namskar

    machi pani si ju teru mero ho hooooooo
    ni rayundu twe bini ne rayedoooooo

  8. harish Paroriya Says:

    jai uttrakhand

  9. Satendra Malkoti Says:

    Yah apne aap me ek bahut hi sarahneey prayas hai. Aap sadhuvad ke patra hai. bahut-bahut dhanyavad! -Jai Uttrakhand.

  10. Balbir Naugain Says:

    Aap sabhi ko bahut bahut “DHANYABAD”. Aapka prayaas safal ho, yahee kaamanaa karte hain.
    “Dev Bhoomi UTTRAKHAND Ki shaan hamesha himalaya ki tarah oonchee rahe”

  11. mahavir rana Says:

    love u garhwal…& my village…dugaada,dang ,rankandiyal….(kritinagar)srinagar…r u going there..????

Trackbacks

  1. Uttaranchal | उत्तरांचल » विडियोः उत्तराखंड गाथा और नरेन्द्र सिंह नेगी लाइव - भाग 2 | Uttaranchal  

बड़ी देर कर दी, मेहरबाँ आते-आते

टिप्पणियों का शटर कुछ दिनों ही खुला रहता है। असुविधा के लिये हम से भूल हो रही है हमका माफी देयीदो, अच्छा कहो, चाहे बुरा कहो....हमको सब कबूल, हमका माफी देयीदो।