< Browse > Home / सामान्‍य / Blog article: उत्तरांचल

| Mobile | RSS

  

उत्तरांचल

February 18th, 2006 | 7 Comments | Posted in सामान्‍य

उत्तरांचल यानि देवभूमि, मीलों फैला हिमालय और इस धरती का एक ओर स्‍वर्ग। हर किसी को हर कहीं से लुभाने के लिये लालायित एक रमणीय प्रदेश। स्‍वच्‍छ वायु, निर्मल जल, कँपकँपाती बर्फ, दूर तक फैली हरियाली, विशाल पहाड़, छोटे छोटे गाँव, सीधे-सादे लोग, कड़ी जीवन शैली यही है उत्तरांचल।

एक तरफ उत्तरांचल जहाँ प्रकृति प्रेमियों के लिये स्‍वर्ग है वहीं दूसरी तरफ रोमाँचकारी खेलों के शौकीन लोगों के लिये सबसे उत्तम स्‍थान। पहाड़ की रानी मसूरी हो या झीलों का शहर नैनिताल या भारत का स्‍विटजरलैण्‍ड अल्‍मोड़ा और या फिर चार धाम जहाँ जायेंगे सुंदरता, शांति और प्‍यार ही पायेंगे। रोमांच और मस्‍ती के लिये आप पहाड़ों में चढ़ने के दुष्‍कर्म कार्य से लेकर ट्रैकिंग या बर्फ में स्की, वॉटर राफ्‍िटंग या बोटिंग और या फिर परा-ग्‍लाइडिंग तक किसी का भी आनंद उठा सकते हैं।

उत्तरांचल दो शब्‍दों के मिलाने से मिला है – उत्तर यानि कि नोर्थ और अंचल यानि कि रीजन, भारत के उत्तर की तरफ फैला प्रान्‍त यानि कि उत्तरांचल। उत्तरांचल दो क्षेत्रों में बंटा है – कुमाऊँ (जहाँ की लोकल बोली है कुमाऊंनी) और गढ़वाल (यहाँ गढ़वाली बोली जाती है)। इसमें कुल मिलाकर १३ जिले हैं ६ कुमाऊँ में और ७ गढ़वाल में। उत्तरांचल पूर्व में नेपाल, उत्तर में चीन, पश्‍चिम में हिमाचल प्रदेश और दक्षिण में उत्तर प्रदेश से घिरा हुआ है। ९ नवंबर सन्‌ २००० को भारत के सत्ताईसवें राज्‍य के रूप में इस प्रदेश का जन्‍म हुआ, इससे पहले ये उत्तर प्रदेश का ही एक हिस्‍सा था।

कुमाऊँ के जिले – अल्‍मोड़ा, रानीखेत, पिथौरागढ़, चम्‍पावत, बागेश्‍वर और उधम सिंह नगर
गढ़वाल के जिले – देहरादून, उत्तरकाशी, पौड़ी, टेहरी ( अब नई टेहरी), चमोली, रूद्रप्रयाग और हरिद्वार

Leave a Reply 8,783 views |
Follow Discussion

7 Responses to “उत्तरांचल”

  1. जीतू Says:

    तरुण भाई,
    नये ब्लॉग के लिये बहुत बहुत बधाई हो। आशा है हमे उत्तरांचल से सम्बंधित अधिक से अधिक जानकारी पढने को मिलेगी।

    आपका ब्लॉग नारद के फीड मे जोड़ दिया गया है।

  2. Vipin Panwar Says:

    Bhai, i want to send u some uttaranchali Look-geet all are in hindi format. can u send ur e-mail.

    baaki aap itnaa achhaa kaam kar rahe ho. kuch kaha nahin saktaa.

    Cheera
    Vipin Panwar “Nishan”
    9911022044

  3. prahlad mehra Says:

    Thanks for information

  4. basu joshi Says:

    dear bhai ji aap ko holi ki subhakamana &uttarotar pragati ki subhakamana. es side ko padh kar ghar ki yad taja kardi ho sakai to mere mail id per kumauni letest &famous music video please …….. please …..sens me

    basu joshi
    09871151324
    new delhi

  5. amar singh bisht Says:

    happy holi all of u.

    pla send the history of kumaoun on e_mail.

    bishtamar@hotmail.com
    any one who the info. about binsar mahadev temple. plz send the info.

  6. Upendra Bahuguna Says:

    dushkarm shabd theek nahi hai dushkar uchit hai pls amend the same!!!!!!!! thanks!!!!!!!

  7. tarun Says:

    please show the history of kumoun , who was the first king of kumoun and why he give the city name of almora.

बड़ी देर कर दी, मेहरबाँ आते-आते

टिप्पणियों का शटर कुछ दिनों ही खुला रहता है। असुविधा के लिये हम से भूल हो रही है हमका माफी देयीदो, अच्छा कहो, चाहे बुरा कहो....हमको सब कबूल, हमका माफी देयीदो।