< Browse > Home /

| Mobile | RSS

किसी और के पिया का संदेश गलती से आ जाये तो

आज मैं कटाई छँटाई कर रहा था अपनी ईमेल के इनबॉक्स में, एक मेल देखकर एक पुराना गीत याद आ गया। डाकिया डाक लाया, डाक लाया, डाकिया डाक लाया, साथ ही याद आया पुराना जमाना, ईमेल से पहले का जमाना। तब अगर डाकिया गलती से शर्माजी की चिट्ठी पड़ोस में वर्माजी को दे जाये तो [...]

[ More ] August 26th, 2010 | 9 Comments | Posted in चुटकुले |

मेरा वाला जेनेरिक: सूर्य अस्त शराबी मस्त

आप सोच में तो नही पड़ गये कि ये क्या बला हुई, ज्यादा मत सोचिये पहले मैं आपको ये बताऊँगा ये क्या है और उसके बाद जेनेरिक शेर भी सुनाऊँगा। आपने ये शायद ही कभी पहले सुना हो क्योंकि अभी अभी हमने ये बिल्कुल ताजा अपने दिमाग की भट्टी से निकाला है, शब्द तो पुराना [...]

जेनेरिक शेरो शायरी

आप सोच में तो नही पड़ गये कि ये क्या बला हुई, ज्यादा मत सोचिये पहले मैं आपको ये बताऊँगा ये क्या है और उसके बाद जेनेरिक शेर भी सुनाऊँगा। आपने ये शायद ही कभी पहले सुना हो क्योंकि अभी अभी हमने ये बिल्कुल ताजा अपने दिमाग की भट्टी से निकाला है, शब्द तो पुराना [...]

TNT: बच्चों के मुँह से

कई बार बच्चे ऐसी बात कह देते हैं कि मुस्कुराये बिना रहा नही जाता ऐसा ही कुछ आज हुआ। मैं अपने लिटिल ड्रैगन की कराटे क्लास में बैठा बच्चों की पर्फोरमेंस के मजे ले रहा था। उसी क्लास के दौरान इंस्ट्रक्टर ने बच्चों से पूछा क्या आप जानते हैं टी एन टी का क्या मतलब [...]

सिर पर फूल

लिटिल ड्रैगन उवाचः अभी कल ही मैं अपने लिटिल ड्रैगन के साथ एक बर्थडे में जा रहा था, दोस्त के घर पहुँचने से पहले जब हम उसके मोहल्ले से गुजर रहे थे तो हमारे सामने कुछ लड़को ने सड़क क्रास की। सड़क क्रास करने वालों में एक सरदार बच्चा भी था (छोटी पगड़ी वाला सरदार)। [...]

[ More ] May 13th, 2007 | 2 Comments | Posted in लिटिल ड्रैगन |

बात जो बन गयी चुटकला

बूँद जो बन गयी मोती की तर्ज पे ही हम वो बात बता रहे हैं जो खत्म होते होते एक चुटकला बन गयी। ये वाक्या अभी कुछ दिनों पहले हमें दी गयी पार्टी का है, हमारे एक दोस्त अच्छा गाना गाते हैं तो जैसा कि पार्टी में होता है सब ने बोलना शुरू कर दिया [...]