< Browse > Home /

| Mobile | RSS

पहली बार एक pregnant आदमी जनेगा बच्चा

जी हाँ ये सच है और पैदा होने वाली है लड़की, थॉमस बेट्टी की गर्भावस्था इस समय लगबग ६ महीने की हो चुकी है यानि ३ महीने और बचे हैं बच्ची के पैदा होने में, Expected Date is 3 July 2008। “I have a very stable male identity,” he added, in an interview, broadcast on [...]

ये कैसे कैसे तारे जमीन पर

तारे भी तो अनगिनत हैं, कुछ अच्छे हैं तो कुछ सच्चे, कुछ प्यारे हैं तो कुछ न्यारे। लेकिन इनमें से कुछ ऐसे भी हैं जिनके लिये कोई भी शायद नही कहना चाहे तारे जमीन पर। लेकिन चाहने से अगर कुछ होता तो हम भी बहुत कुछ चाहने लगते। आप जरूर सोच रहे होंगे कि इतने [...]

[ More ] April 2nd, 2008 | 6 Comments | Posted in देश दुनिया |

सिन्दूर और बिंदी दोनों से तौबा

भारतीय नारियों के सुहाग, सौन्दर्य और फैशन के इन दोनों प्रतीक का अस्तित्व यहाँ अमेरिका में खतरे में है। सिन्दूर बैन करने के बाद अब नंबर आया है बिन्दी का। बिन्दी ने आजकल अमेरिका के फूड एंड ड्रग विभाग की नींद खराब कर रखी है। इसकी वजह है सिन्दूर और बिन्दी दोनों में खतरनाक माने [...]

[ More ] March 5th, 2008 | 11 Comments | Posted in देश दुनिया |

अमेरिकी चुनावः इस बार बन सकता है इतिहास

इस बार के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में एक इतिहास के रचे जाने की बहुत ज्यादा संभावना है और ये इतिहास रचेगी डेमोक्रेटिक पार्टी। लास्ट राउंड की रेस तक इस पार्टी के दो फाईनल उम्मीदवार हैं, बेरॉक ओबामा और हिलेरी क्लिटंन। यानि कि अमेरिकी इतिहास में या तो पहला अफ्रीकन-अमेरिकन राष्ट्रपति बनेगा या पहली महिला राष्ट्रपति। [...]

स्वीमिंग पूल में टॉपलैसः आप का क्या कहना है?

इस बहस में महिला चिट्ठेकारों या रीडरस के क्या विचार हैं ये मैं जरूर जानना चाहूँगा क्योंकि ये कुछ लड़कियों या महिलाओं ने शुरू ही महिला और पुरूषों में समान अधिकार की बात पर किया है। ये खबर है स्टॉकहोम (स्वीडन) की, जहाँ २ लड़कियाँ टॉपलैसे हो कर पब्लिक स्वीमिंग पूल में तैरने पहुँच गयी। [...]

काला शुक्रवार

आने वाला ये शुक्रवार अमेरिका में काले शुक्रवार के नाम से प्रसिद्ध है, या यों कहिये थैंक्सगिविंग डे के बाद का शुक्रवार काले शुक्रवार के नाम से प्रसिद्ध है। ऐसा माना जाता है कि इसी दिन से क्रिसमस की खरीदारी की शुरूआत होती है। थैंक्सगिविंग डे हमेशा नवंबर माह के चौथे बृहस्पतिवार को पड़ता है [...]

[ More ] November 22nd, 2007 | 6 Comments | Posted in देश दुनिया |

दो नावों पर सवार, हर पल पड़ती मार

क्या मुझे बताना चाहिये कि यहाँ बात किस के संदर्भ में की जा रही है? शायद ये ही बेहतर रहेगा, मैं पाकिस्तान की बात कर रहा हूँ। अब आप ही देखिये ६० साल के इतिहास में २७ साल डेमोक्रेसी की सरकार चली और ३३ साल मिलेटरी का शासन, हुई ना दो नावों में सवारी। वैसे [...]

नच बलियेः नचा नचा के दुनिया हिला दे

कहीं आप ये तो नही सोच रहे कि मैं किसी देसी टेलिविजन में आने वाले किसी डांस कार्यक्रम का जिक्र कर रहा हूँ। अगर ऐसा है तो आप गलत सोच रहे हैं। मैं बात कर रहा हूँ उस शख्स की जिसने पहले भारत के राजनेताओं को नचाया था, अपनी कूटनीटि (या धूर्त राजनीति) से, मैं [...]