< Browse > Home / Archive by category 'खालीपीली'

| Mobile | RSS

चंदन विष व्यापत नही, लिपटे रहत भुजंग

एक शक्की आदमी था, हर वक्त भ्रमित रहता, लटकती रस्सी को साँप समझकर हमेशा डरा रहता। उसी दुनिया में एक दूसरा आदमी भी था जो आज भी यही समझता था कि कोई अगर तुम्हारे एक गाल में थप्पड़ मारे तो उसके आगे दूसरा गाल कर दो। मैंने आज के दिन दो अलग अलग अलग खबरें [...]

[ More ] August 18th, 2010 | 5 Comments | Posted in खालीपीली |

सेक्स, पैसा और प्रमोशन

इन तीनों का साथ एक खतरनाक कंबीनेशन है और अलग अलग होने पर भी ये एक दूसरे से टकरा ही जाते हैं। आजकल यहाँ एक कामेडियन के ऐसे ही खिलाये कुछ गुल एक बहस का सबब बने बैठे हैं – अपने सहयोगी साथियों के साथ सेक्सुअल संबंध बनाने चाहिये या नही। बहस का नतीजा चाहे [...]

[ More ] October 8th, 2009 | 4 Comments | Posted in खालीपीली |

आया है मुझे फिर याद वो जालिम

अभी कुछ दिनों पहले मैं लाइब्रेरी गया था अपने बेटे के लिये कुछ कॉमिक्स लेने, ना जाने कितने सालों बाद फिर से कॉमिक्स की शक्लें देखीं। इनमें से एक थी अवतार जो कि एशियन करेक्टर पर बनी कहानी है जो कि भारतीय मूल के एम नाइट श्यामलन की अगली फिल्म की विषय वस्तु भी है। [...]

[ More ] August 13th, 2009 | 7 Comments | Posted in old days of childhood, खालीपीली |

Sarah Palin Got Pranked

This is a must watch video. कनाडा के एक रेडियो के दो RJ ने अमेरिका की रिप्बलिकन पार्टी की वाइस प्रेसीडेंट पद की उम्मीदवार सरहा पालिन का क्या खूब बकरा बनाया है। कमाल इस बात का है कि पालिन को अंत तक पता भी नही चला जबकि RJ अपनी बात में दबाकर हिंट देते रहे। [...]

[ More ] November 4th, 2008 | 7 Comments | Posted in खालीपीली, विडियो |

ईर कहे भारत बंद, बीर कहे भारत बंद और फत्ते कहे…

अब फत्ते क्या कहे ये जानने के लिये आपको ये पोस्ट तो पढ़नी पड़ेगी, आप यह भी सोच रहे होंगे कि भला ये ईर, बीर और फत्ते हैं कौन। अंग्रेजी की एक कहावत में तीन नाम आते हैं- टॉम, डिक और हैरी (उदाहरण के लिये If every Tom, Dick and Harry knows about something, then [...]

[ More ] July 13th, 2008 | 3 Comments | Posted in खालीपीली |

समीर यानि ठंडी हवा का झोंका

आपने ये तो पढ़ा सुना होगा कि हर सफल व्यक्ति के पीछे किसी ना किसी स्त्री (या महिला) का हाथ होता है और अगर ये बात बिल्कुल सही है तो गौर करने लायक बात ये है कि अंबानी बंधुओं की सफलता के पीछे कितनी ज्यादा महिलाओं का हाथ होगा। अब इसका तो हम कुछ ठीक [...]

[ More ] June 21st, 2008 | 7 Comments | Posted in खालीपीली |

मुंगेरी की वापसी

अगर आप ३ साल पहले हिंदी चिट्ठाजगत से वाकिफ नही थे तो मुंगेरी को भी नही जानते होंगे। मुंगेरी जब आया था तब हिंदी चिट्ठाजगत में मुट्ठीभर लोग थे जो खुद ही चिट्ठा लिखते और खुद ही आपस में एक-दूसरे का चिट्ठा बांचते। हिंदी चिट्ठे पढ़ने वालों का भी अकाल था उन दिनों, हमने भी [...]

[ More ] March 21st, 2008 | 6 Comments | Posted in खालीपीली |

ढिशुम २००८

बिग बी इंडिया की राजनीति में चले नही तो लगता है उनके चाहने वालों ने सोचा है उन्हें देश से बाहर कहीं और से लड़ाया जाय। अब ये कहीं और अमेरिका के सिवा कहाँ हो सकता है जहाँ आजकल चुनावी माहौल बड़ा गरम है। तो बिग बी ने अमेरिका में चुनाव लड़ने का मन बनाया, [...]

[ More ] March 20th, 2008 | 6 Comments | Posted in खालीपीली |

खुशी के सदमे से एक ब्लोगर की मौत

हमें ये बताते हुए बड़ा दुख हो रहा है कि अत्यधिक खुशी के सदमें से हमारे पहचान के एक ब्लोगर की आकस्मिक मौत हो गयी। सुबह सुबह जब भाभीजी का फोन आया और जब उन्होने ये बताया तो हमें कुछ बूझते नही बना। हमारे डिटेल से पूछने पर इतना ही पता चल पाया कि रोज [...]