< Browse > Home / चुटकुले, जरा हट के, लिटिल ड्रैगन / Blog article: ये सिर्फ Adults के लिये

| Mobile | RSS

ये सिर्फ Adults के लिये

अगर आपकी उम्र 18 साल या उससे अधिक है तभी आप इस पोस्ट को पढ़ें या फिर अगर आपने मेरी पिछली पोस्ट पढ़ी है तब तो आपको इस पोस्ट को जरूर पढ़ना चाहिये, बाद में मुझे मत कहियेगा कि आपको नही बताया गया। पिछली पोस्ट से एक बात तो पता चल ही गयी कि सिर्फ सिरिल ने अपना दिमाग लगाया और सबसे ज्यादा नंबर प्राप्त किये। वहीं जीतू भाई जाना था जापान पहुँच गये चीन गुनगुनाते रहे जबकि ज्ञानजी ने बिल्कुल ज्ञानियों वाली बात की यानि कि जब कल पता चलना ही है तो काहे दिमाग का दही करें। सवाल तो पिछली पोस्ट में थे ही आज उसी क्रम में जवाब हासिल हैं (सिरिल का दिमाग सही दिशा में दौड़ रहा था):

1. An Eleph-ant
2. Account-ant
3. Lost
4. a bee flying backwards
5. it’s tail
6. A Mon-key
7. Because the kids have to play inside
8. Jumbojets
9. it’s too far to walk

ये सारे सवाल मुझ से लिटिल ड्रैगन ने पूछे थे जब वो इस पुस्तक को पढ़ रहा था – Roaring with Laughter, अगर आप सोच रहे हैं इस पोस्ट का टाईटिल ये क्यों रखा तो उसके कारण के लिये यहाँ पढ़िये

Leave a Reply 7,570 views |
Follow Discussion

8 Responses to “ये सिर्फ Adults के लिये”

  1. Cyril Gupta Says:

    चलिये किसी चीज़ में तो मुझे कुछ अंक मिले. :)

    जब मैं बच्चा था, तब सीधे सवालों का उल्टा जवाब देने के लिये डांट पड़ती थी… आज इसको lateral thinking कहकर इनाम देते हैं.

  2. Amit Says:

    अरे मास्साब, ई पोस्टवा में व्यस्कों के लिए क्या है?? मैं तो सोच रहा था कि ई मा कुछ व्यस्कों वाला माल मिलेगा या वैसे प्रश्न पूछे जाएँगे, ही ही ही!! ;) :D

    जब मैं बच्चा था, तब सीधे सवालों का उल्टा जवाब देने के लिये डांट पड़ती थी… आज इसको lateral thinking कहकर इनाम देते हैं.

    ऐसे ही होता है जी, हमारे बचपन में कपड़े फटने पर या तो काम वाली बाई को दे दिए जाते थे या थोड़े ही फटे होते तो सिलाई कर घर में पहनने के काम आते जबकि आज तो लोग फटे कपड़े ही खरीदते हैं या खुद ही फाड़ के पहनते हैं!! ;)

  3. Gyan Dutt Pandey Says:

    दोनो पोस्ट अलग-अलग टैब में खोल कर प्रश्नोत्तर देखे। बड़ी मेहनत लगी। शायद बच्चा इतना नहीं करता। तभी >१८ के लिये था यह अनुष्ठान! :-)

  4. समीर लाल Says:

    जल्द ही १८ का हो जाऊँगा, तब देखता हूँ. :)

  5. Tarun Says:

    @समीरजी, आप हो कहाँ, अभी आपके ब्लोग में कमेंट डाला था कि लोटा मिला या नही। या खराब मौसम की वजह से उड़नतश्तरी उतर नही पा रही।

    आप जल्दी से १८ के होलें क्योंकि जब तक आप १८ के नही होंगे हम ११ पर अटके रहेंगे आखिर हमें भी तो बड़ा होना है ;)

  6. Sudama Says:

    “I am not smarter than fifth grade” ;)

Trackbacks

  1. निठल्ला चिन्तन » अमित और ज्ञानजी उस पोस्ट में ये था व्यस्कों के लिये  
  2.   ये सिर्फ बच्चों के लिये by निठल्ला चिन्तन  

बड़ी देर कर दी, मेहरबाँ आते-आते

टिप्पणियों का शटर नयी पोस्ट पब्लिश करने के बाद कुछ दिनों ही खुला रहता है। पुरानी पोस्टस में आने वाले स्पॉम टिप्पणियों के मद्देनजर यह निर्णय लेना पड़ा, असुविधा के लिये खेद है। आप को अगर ये ब्लोग और इसमें लिखी पोस्ट पसंद आती हैं तो आप इसे सब्सक्राइब करके भी पढ़ सकते हैं, धन्यवाद।