< Browse > Home /

| Mobile | RSS

किसी की मुस्कुराहटों पे हो निसार

अभी अभी राजकपूर की आवाज यानि मुकेश साहेब की वर्षगाँठ निकली है और जिस तरह से मैंने अनजाने ही सही उनको गीत गाता चल में भूला सा दिया वैसे ही समय की कमी के चलते वर्षगाँठ में भी उनके गाये किसी गीत का जिक्र तक नही किया। आज जब थोड़ा वक्त मिला तो सोचा मुकेश [...]

[ More ] August 31st, 2010 | 4 Comments | Posted in Golden Melody, Happy Go Lucky |

हाल चाल ठीक ठाक है, सब कुछ ठीक ठाक है

1971 में संपूरण सिंह कालरा निर्देशित फिल्म आयी थी, नाम था मेरे अपने और यही संपूरण सिंह यानि गुलजार के फिल्म निर्देशन की शुरूआत भी थी। इस फिल्म की कहानी एक विधवा और कुछ दिशाहीन, बेरोजगार और अनाथ युवक (युवकों) के इर्दगिर्द घूमती है। फिल्म में मुख्य भूमिका थी मीना कुमारी, विनोद खन्ना और शत्रुघ्न [...]

[ More ] November 23rd, 2008 | 5 Comments | Posted in Situational |