< Browse > Home / Romantic / Blog article: तू इस तरह से मेरी जिंदगी में शामिल है

| Mobile | RSS

तू इस तरह से मेरी जिंदगी में शामिल है

October 6th, 2008 | 10 Comments | Posted in Romantic

सन् १९८० में एक फिल्म आयी थी ‘आप तो ऐसे ना थे’, और इस फिल्म की सबसे बढ़िया बात थी ये गीत। खुबसूरत बोल, मीठी आवाजें और कर्णप्रिय संगीत। जी हाँ आपने सही पढ़ा आवाजें, इस एक गीत को तीन गायकों ने गाया था और हर गीत उतना ही मधुर। ये तीन आवाजें थीं – मोहम्मद रफी, मनहर उधास और हेमलता।

इस गीत को लिखा था इंदीवर ने, संगीत दिया था उषा खन्ना ने और ये गीत फिल्माया गया था दीपक पराशर, राज बब्बर और रंजीता के ऊपर। पहले आप इस गीत को पढ़िये फिर इन तीनों की अलग अलग आवाजों में सुनिये और बताईये कौन उन्नीस रहा कौन बीस।

मोहम्मद रफी का गाया गीत:

तू इस तरह से मेरी ज़िन्दगी में शामिल है,
जहाँ भी जाऊं ये लगता है तेरी महफिल है।

ये आसमान ये बादल ये रास्ते ये हवा,
हर एक चीज़ है अपनी जगह ठिकाने से,
कई दिनों से शिकायत नहीं ज़माने से,
ये जिंदगी है सफर तू सफर की मंजिल है।

तेरे बगैर जहाँ में कोई कमी सी थी,
भटक रही थी जवानी अँधेरी राहों में,
सुकून दिल को मिला आके तेरी बाहों में,
मैं एक खोई हुई मौज हूँ तू साहिल है।

तेरे जमाल से रोशन है कायनात मेरी,
मेरी तलाश तेरी दिलकशी रहे बाकी,
खुदा करे कि ये दीवानगी रहे बाकी,
तेरी वफ़ा ही मेरी हर ख़ुशी का हासिल है।


Tu Is Tarah Se Mer…

मनहर और हेमलता के गाये गीत, गाने के बोल एक ही हैं:

तू इस तरह से मेरी ज़िन्दगी में शामिल है,
जहाँ भी जाऊं ये लगता है तेरी महफिल है।

ये आसमान ये बादल ये रास्ते ये हवा,
हर एक चीज़ है अपनी जगह ठिकाने से,
कई दिनों से शिकायत नहीं ज़माने से,
ये जिंदगी है सफर तू सफर की मंजिल है।

हर एक फूल किसी याद सा महकता है,
तेरे ख्याल से जागी हुई फिजायें हैं,
यह सब्ज़ पेड़ हैं या प्यार की दुआएं हैं,
तू पास हो की नहीं फिर भी तू मुकाबिल है।

हर एक शय है मुहब्बत के नूर से रोशन,
ये रोशनी जो न हो तो ज़िन्दगी अधूरी है,
राह-ए-वफ़ा में कोई हमसफ़र ज़रूरी है,
यह रास्ता कहीं तनहा कटे तो मुश्किल है।

मनहर उधास की आवाज में हेमलता की आवाज में

Audio clip: Adobe Flash Player (version 9 or above) is required to play this audio clip. Download the latest version here. You also need to have JavaScript enabled in your browser.

Tu Is Tarah Se (Fe…

Leave a Reply 6,473 views |

शायद आप इन्हें भी पढ़ना-सुनना पसंद करें

Follow Discussion

10 Responses to “तू इस तरह से मेरी जिंदगी में शामिल है”

  1. समीर लाल 'उड़न तश्तरी वाले' Says:

    बेहतरीन..आभार.

  2. शास्त्री जे सी फिलिप् Says:

    हिन्दी चिट्ठाजगत में इस नये चिट्ठे का एवं चिट्ठाकार का हार्दिक स्वागत है.

    मेरी कामना है कि यह नया कदम जो आपने उठाया है वह एक बहुत दीर्घ, सफल, एवं आसमान को छूने वाली यात्रा निकले. यह भी मेरी कामना है कि आपके चिट्ठे द्वारा बहुत लोगों को प्रोत्साहन एवं प्रेरणा मिल सके.

    हिन्दी चिट्ठाजगत एक स्नेही परिवार है एवं आपको चिट्ठाकारी में किसी भी तरह की मदद की जरूरत पडे तो बहुत से लोग आपकी मदद के लिये तत्पर मिलेंगे.

    शुभाशिष !

    – शास्त्री (www.Sarathi.info)

  3. लोकेश Says:

    इस नये चिट्ठे का एवं चिट्ठाकार का हार्दिक स्वागत

  4. डॉ.ऋषभदेव शर्मा Says:

    आपकी सूझ के लिए बधाई !……
    .न, उन्नीस कोई नहीं.
    > ऋ.

  5. मथुरा कलौनी Says:

    चिट्ठा जगत में आपका स्‍वागत है।
    तू इस तरह से मेरी ज़िन्दगी में शामिल है, वाह आपने कुछ बीते दिनों की याद दिला दी।
    मथुरा कलौनी

  6. pradeep manoria Says:

    है आवाज़ ज़िंदा ही सदा यादे रफी की महफूज है
    पेशकश यह उनकी यादों को करे taazaa जो कोई फूल है
    सुंदर प्रस्तुति से तारुफ़ हुआ आपका बहुत स्वागत है
    मेरे ब्लॉग पर आप पधारें ऐसी चाहत है

    http://manoria.blogspot.com

  7. अशोक पाण्‍डेय Says:

    तरुण भाई, बहुत बढिया लगा आपका ब्‍लॉग..गीतों के प्रस्‍तुतीकरण का सहज लहजा मनभावन है।

  8. Rewa Smriti Says:

    Ye song kafi achhi hai or is film ko bhi kai baar dekh chuki hun…abhi kuch din pahle fir se dekha hai. Mujhe lakdi ki kathi…bahut bahut pasnd hai aur use gane mein ab bhi bahut achha lagta hai. Bachpan yaad aa jati hai.

  9. KULDEEP KUMAR TIWARI Says:

    ITS A GOLDEST SONG I AM THANKS TO YOU TRAUN YOU HAVE REMINDE ME WITH MY LOVELY SONG.
    EVERY SINGER DO BEST WOTK WITH THIS SONG.

    KULDEEP KUMAR TIWARI

Trackbacks

  1. शास्त्रीजी आपकी टिप्पणी के लियेः धन्यवाद  

बड़ी देर कर दी, मेहरबाँ आते-आते

टिप्पणियों का शटर कुछ दिनों ही खुला रहता है। असुविधा के लिये हम से भूल हो रही है हमका माफी देयीदो, अच्छा कहो, चाहे बुरा कहो....हमको सब कबूल, हमका माफी देयीदो।