आओ जानें आडियो फाईल में चिपमंक प्रभाव क्या होता है और इसे कैसे दूर करें

अभी पिछली संगीत चर्चा कर रहा था तो एक चिट्ठे में पाया कि गीत बहुत तेज तेज बज रहे थे (डबल स्पीड)। उस साईट में पिक्सेलआऊट का प्लेयर गीत प्ले करने के लिये ईस्तेमाल किया था, जो कि वास्तव में फ्लैश प्लेयर है।

गानों का तेज तेज बजना ही वास्तव में चिपमंक प्रभाव (chipmunk effect) कहलाता है। ब्लोगस या पॉडकास्टर ज्यादातर फ्लैश प्लेयर का ही ईस्तेमाल करते हैं, और फ्लैश प्लेयर उस साउंड को ज्यादा पसंद करते हैं जो 11.025 KHz के मल्टीपल (multiples) में रिकार्ड (या Encode) किये होते हैं यानि कि 11.025 KHz, 22.050 KHz या 44.100 KHz।

अगर आपकी फाईल इस आवृति (Frequency) में रिकार्डेड है तो आपकी म्यूजिक फाईल या पॉडकास्ट सही सुनायी देगा अन्यथा तेज तेज भागता सा लगेगा मतलब कि चिपमंक प्रभाव के तहत सुनायी देगा। इन फ्लैश प्लेयर के लिये सबसे उत्तम आवृति 44.100 KHz होती है।

आप जो भी सोफ्टवेयर साउंड फाईल को कनवर्ट करने या रिकार्ड करने के लिये उपयोग में लाते हैं, उसकी सेटिंग (default sample rate or project rate) में आवृति 44.100 KHz पर सेट करके रखें। अगर आपके साउंड प्रोजेक्ट में स्टिरियो कटेंट हैं तो बहुत ज्यादा चासं है (सोफ्टवेयर पर निर्भर) कि फाईनल प्रोडक्ट में चिपमंक प्रभाव रहेगा, इसके लिये फाईल एक्सपोर्ट करने से पहले प्रोजेक्ट रेट को 44.100 KHz पर सेट कर लें।

अगर कोई साउंड फाईल आप कहीं और से डाउनलोड कर अपनी साईट में चलाते हैं तो फ्लैश पलेयर में चलाने से पहले उसे 44.100 KHz की आवृति पर कनवर्ट (Encode) कर लें। उसके बाद नो चिपमंक प्रभाव सिर्फ कर्णप्रिय साउंड।

चिपमंक प्रभाव

Audio clip: Adobe Flash Player (version 9 or above) is required to play this audio clip. Download the latest version here. You also need to have JavaScript enabled in your browser.

वो ही गीत बिना चिपमंक प्रभाव के

Audio clip: Adobe Flash Player (version 9 or above) is required to play this audio clip. Download the latest version here. You also need to have JavaScript enabled in your browser.

[note]चिपमंक प्रभाव वाले गीत यानि कि किसी अन्य आवृति पर ईनकोडेड गीत विंडोज प्लेयर या अन्य नॉन फ्लैश प्लेयर पर सही सुनायी दे सकते अगर जानबूझ कर उनमें वो प्रभाव नही दिया गया है तो जैसे बताने के लिये हमने दिया है।[/note]

चित्र साभारः गुगल ईमेज सर्च

This entry was posted in Audio & Video, Blogging, How to and tagged , , . Bookmark the permalink.

4 Responses to आओ जानें आडियो फाईल में चिपमंक प्रभाव क्या होता है और इसे कैसे दूर करें

  1. हम कुछ varshon poorv अपने audio keset को digitise किया करते थे तब न कोई batane वाला था और न ही शहर में prashikshaN आदि की suvidha थी. बहुत maatha pachhi karni padi थी खुद ba खुद seekhne के लिए. आप अपने blog पर ऐसी jaankariyan dekar लोगों का बड़ा bhala कर रहे हैं. आभार.

  2. बहुत तकनीकी पोस्ट है, अपने पल्ले तो पड़ी लेकिन उपयोग शायद ही कर सकें।

  3. बहुत अच्छी जानकारी दी है । काम मे लेकर देखेगें

  4. बहुत अच्‍छी तकनीकी जानकारी दी है … कोशिश करेंगे … धन्‍यवाद।